Wednesday, 14 November 2018

#

loveShayri



  • तुजसे ही हर सुबहां। .. हो मेरी' 
  • तुजसे ही हर शाम। .... 
  • कुछ ऐसा रिस्ता बन गया तुजसे। ..?????? 
  • की हर सांस में बस तेरा ही नाम। ..... 

No comments:

Post a Comment

hindijokesjunction