Friday, 7 December 2018

#

LoveShayri


आँखों की गहराई को समझ नहीं पाते,
होठ है मगर कुछ हम कह नहीं पाते,
अपनी दिल की बात किस तरह कहे तुमसे,
तुम वही हो जिनके बिना हम रह नहीं पाते..

           ~दिनसा प्रजापति 

No comments:

Post a Comment

hindijokesjunction