Friday, 1 March 2019

#

Dard शायरी


इस शक की वजह से ना जाने कितने रिश्ते टूटे
कभी ज़िन्दगी हमसे रूठी, कभी हम ज़िन्दगी से रूठे..
                                            ~ दिनसा प्रजापति 

No comments:

Post a Comment

hindijokesjunction